खिलखिलाती आशाएँ

फूलों सी महकती जीवन की बागियां, संगीत सुनाती कलीयों की गाथा,
भरे पेटलों में छुपी हुई उम्मीदें, हर बीज में नया आनंद छुपा।
खुलते हैं फूल, हमें बतलाते हैं, कि हर अंत नई शुरुआत लेकर आता है,
मुस्कान देता है फूल का कोमल स्वरूप, जीवन में खुशियों का संगीत गाता है।

Leave a comment