जीवन की यात्रा: खुशी पाना सीखो

आओ चलें हम संग-संग,
मन की गहराईयों के रंग,
जीवन की इस धराती पर,
मिले हैं बहुत से संग।

सूरज की पहली किरण,
करती है सबका स्वागत,
सपनों का संसार छोड़,
आओ विचारों के संग।

फूलों की खुशबू से,
पर्वतों की उंचाई से,
बहती हैं नदियाँ जिनसे,
जीवन की ये सुंदरता।

दूसरों की खुशी में,
खुशी पाना सीखो,
अपनी कमियों को सुधार,
और अपने आप को बढ़ाना सीखो।

आओ चलें हम संग-संग,
इस जीवन की यात्रा पर,
सीखें, समझें, बढ़ें आगे,
इसी में है जीवन की सच्चाई।

Leave a comment